Barcode क्या है? – Barcode कैसे बनाए?, Barcode कैसे काम करता है? | Barcode in Hindi

4.8/5 - (5 votes)

हेल्लो दोस्तों आज हम Barcode के बारे में जानेगे। Barcode क्या है?, Barcode के प्रकार, Barcode कैसे काम करता है?, Barcode कैसे बनाए? और साथ ही Barcode को स्कैन कैसे करे और इसके उपयोग के बारे में जानेगे। जब कभी भी आप किसी मॉल या कोई दुकान गए होंगे और अगर कोई सामान खरीदा होगा तो आपके नजर में कुछ काली काली सीधी लाइन जरूर आया होगा।

Barcode

बारकोड का उपयोग आपने संभवत किसी कंपनी, शॉपिंग मॉल या दुकान में देखा होगा। जहां लोग प्रोडक्ट खरीदते हैं तथा कंपनी अपने प्रोडक्ट को बारकोड के जरिए ट्रैक करने स्टॉक लेवल को जांचने के लिए बारकोड का उपयोग करती है।

बारकोड एक इलेक्ट्रॉनिक कोड होता है जिसे केवल मशीन द्वारा ही पढ़ा जा सकता है। आता है बारकोड एक मशीन रीडेबल कोड है जिसे optical scanner की सहायता से पढ़ा जा सकता है।आधुनिक समय में बारकोड का अधिक उपयोग बड़ी-बड़ी कंपनियों द्वारा सफलतापूर्वक बिजनेस करने के लिए अपने प्रोडक्ट में बारकोड का उपयोग किया जाता है। अगर आप Barcode के बारे और अधिक जानना चाहते है तो इस आर्टिकल अंत तक जरुर पढ़े …

 

Barcode क्या है? (What is Barcode in Hindi) –

अगर हम बारकोड की actual definition की बात करें तो तो यह एक मशीन रीडेबल कोड है जो कि नंबर और लाइन के फॉर्मेट में रहता है। यह लाइन मुख्यतः parallel रहते हैं और किसी भी प्रोडक्ट के पीछे की तरफ प्रिंट किया हुआ होता है।

बारकोड किसी प्रोडक्ट का आंकड़ा या सूचना के बारे में जानकारी लिखने का एक तरीका है। बारकोड में किसी भी प्रोडक्ट की पूरी जानकारी होती है जैसे कि मूल्य, प्रोडक्ट की मात्रा, manufacturing data, expiry date तथा उत्पाद किस देश में बना है आदि जानकारी बारकोड में होती है।

बारकोड सिस्टम किसी भी बिजनेस में काफी मददगार साबित होते हैं। इनकी मदद से बड़े-बड़े कंपनी अपने प्रोडक्ट को ट्रैक कर सकते हैं उनके प्राइस और स्टॉक लेवल के बारे में आसानी से पता कर सकते हैं। इसका इस्तेमाल कंपनी अपने computer centralized system में कर अपने productivity और efficiency को बढ़ा सकते हैं। बारकोड में बाइनरी भाषा में प्रोडक्ट के बारे में लिखा होता है। बारकोड को केवल मशीन से पढ़ा जाता है। बारकोड को पढ़ने वाले उपकरण को बारकोड रीडर (Barcode Reader) कहते हैं।

बारकोड में जो लाइन होती है उसके नीचे नंबर भी लिखा होता है। यह नंबर किसी देश के उत्पाद से संबंधित होता है, जैसे भारत के जितने भी फोन नंबर होते हैं उनके शुरुआत में +91 लिखा होता है। ठीक उसी तरह बारकोड में भी होता है।

जब पहले Barcode मार्केट में आया तब केवल 1-Dimensional design ही था जिसमें केवल ब्लैक लाइन थी और जिसे बड़ी आसानी से Barcode scanner की मदद से पढ़ा जा सकता है। समय के साथ साथ इनके पैटर्न में भी काफी बदलाव आ चुके हैं। ये आजकल बहुत से shap में और size में उपलब्ध है और जिसे हमारे mobile phone से भी पढ़ा जा सकता है। 

 

Barcode के प्रकार (Types of Barcode in Hindi) –

बारकोड दो प्रकार के होते है जिनमे 1 Dimensional Barcodes (1D) और 2 Dimensional Barcodes (2D) है। चलिए Barcode के प्रकार बारे में विस्तार से जानते है –

1D Barcode –

1D Barcode
1D Barcode

इसे लाइनर बारकोड और रेखाकार बारकोड  के नाम से भी जाना जाता है। 1D Barcode सबसे ज्यादा recognizable है क्योंकि यह एक UPC (Universal Product Code) है। इस UPC के दो भाग हैं पहला Barcode है और दूसरा 12 digit UPC number है। 

इस प्रकार के बारकोड में कुछ space में काली और सफेद खड़ी रेखाएं होती है। इनमें केवल text data ही स्टोर रहता है। 1D बारकोड का उपयोग सामान्यतः दैनिक जीवन में साबुन, पेन इत्यादि में किया जाता है।

2D Barcode –

2D Barcobe / QR (Quick Response) Code
2D Barcode / QR (Quick Response) Code

इसे द्विविमीय बारकोड तथा QR (Quick Response) Code भी कहते हैं। यह नई तकनीकी के बारकोड है। इस प्रकार के बारकोड वर्गाकार आकृति के होते हैं। 2D बारकोड में 1D बारकोड की अपेक्षा अधिक जानकारी स्टोर की जा सकती है। आजकल के समय में QR code जैसे बारकोड का बहुत अधिक इस्तेमाल किया जाने लगा है। 

इसे पढ़ने के लिए आपको image scanner की जरूरत पड़ेगी जैसे मोबाइल फोन जिसमें की कैमरा उपलब्ध होता है इससे हम यह 2D barcode पढ़ सकते हैं। आपने कई सारे डिजिटल पेमेंट एप्लीकेशन में QR code का इस्तेमाल देखा होगा जैसे कि PhonePe, Paytm, Google Pay आदि। 

 

Barcode कैसे काम करता है? (How does Barcode Work) –

कंप्यूटर केवल मशीन की भाषा (0 और 1) को समझते हैं। बारकोड को 95 खानों में 0 और 1 के रूप में बांटा जाता है और इन 95 खानों को 15 अलग-अलग खानों में बांटा जाता है। इन 15 खानों में से 12 में बारकोड लिखा जाता है और 13 खानों में गार्ड्स होते है।

बारकोड बाएं से दाएं ओर पढ़ा जाता है। बारकोड में बाई ओर से नंबर 0 से शुरू होकर 1 पर खत्म होते हैं जबकि दायी और से नंबर 1 से शुरू होकर 0 पर खत्म होते हैं।

बारकोड में जो black और white लाइनिंग होती है उसी के space के कॉन्बिनेशन के आधार पर ही प्रोडक्ट की इंफॉर्मेशन को define किया जाता है।

जब बार कोड रीडर की सहायता से बारकोड को स्कैन किया जाता है तो बारकोड रीडर उसमें लिखी सारी इनफार्मेशन को डीकोड करके उसे हमारे द्वारा समझी जाने वाली भाषा में बदल देता है। बारकोड में किसी प्रोडक्ट की महत्वपूर्ण इंफॉर्मेशन लिखी जाती है जैसे कि price, product किस company में बना है, product किस प्रकार का है आदि।

इस सिस्टम का इस्तेमाल कर बड़े-बड़े कंपनी को बहुत फायदा हुआ है। उनकी हर एक चीज को ट्रक किया जा सकता है और इसकी मदद से उन चीजों को अच्छी तरह से मैनेज किया जा सकता है। 

 

Barcode का उपयोग (Uses of Barcode) –

  • सभी प्रकार की packed वस्तुओं में बार कोड का इस्तेमाल किया जाता है।
  • Manufacturing Process Tracking (MPT) में जहां की हल्की और भारी equipment और vehicle को assemble किया जाता है।
  • पोस्ट ऑफिस में स्पीड पोस्ट को track करने के लिए बारकोड का इस्तेमाल किया जाता है।
  • Access कंट्रोल सभी चीजों की जैसे events, train, ship, concerts etc. जहां की आने जाने में बारकोड का इस्तेमाल होता है।
  • Coupons code, Gift card, driving license आदि में बारकोड का इस्तेमाल करते हैं।
  • Medicine manufacturing में anti-counterfeiting और expiring system को रोकने के लिए बारकोड का उपयोग किया जाता है।
  • होटल, कॉलेज, हॉस्पिटल जहां पर check In और check out की व्यवस्था होती है वहां पर बारकोड का इस्तेमाल किया जाता है।
  • डिजिटल पेमेंट करने के लिए QR code का इस्तेमाल किया जाता है।
  • बैंकों में किसी पासबुक की जानकारी को ट्रैक करने के लिए भी बारकोड का इस्तेमाल  किया जाता है। 

 

Barcode को स्कैन कैसे करे? (How to Scan Barcode) –

Barcode machine से –

सबसे पहले अपने computer में बारकोड स्केनर मशीन को कनेक्ट कर दीजिए। अब कंप्यूटर में MS Word या Notepad या फिर Wordpad को ओपन कर लीजिए। Barcode Scanner या Barcode Reader मशीन में एक बटन होता है जिसको दबाने से एक लाल रंग की एक बत्ती जलेगी जो पतली लाइन बनी होती। जब आप इस लाल रंग की रोशनी को बारकोड पर ले जाएंगे तो वह अपने आप  कंप्यूटर में जो भी software आपने खोल रखा है जैसे MS Word, Notepad, Wordpad उसमें तुरंत ही उस बारकोड की जानकारी अपने आप है आ जाएगी। 

Mobile phone से –

अगर आपके फोन में बारकोड स्कैनर है तो ठीक है नहीं है तो सबसे पहले प्ले स्टोर से बारकोड स्कैनर एप डाउनलोड कर लीजिए। अब इस एप को इंस्टॉल कर लीजिए। जब आप इस ऐप को ओपन करेंगे तो आपके फोन का कैमरा open हो जाएगा ।

अब आप कैमरा को जैसे ही बारकोड पर ले जाएंगे तो तुरंत ही Scan होकर कुछ जानकारी आपकी स्क्रीन पर आ जाएगी और एक वेब सर्च का भी ऑप्शन आ जाएगा जिस पर क्लिक करते ही आपको उस product की सभी जानकारी दिखाई देगी। 

 

Barcode कैसे बनाए? (How to Make Barcode) –

  • कई सारे ऑनलाइन विकल्प मौजूद है जहां से आप फ्री में बारकोड बना सकते हैं।
  • सबसे पहले आपको बारकोड बनाने की ऑफिशियल वेबसाइट https://barcode.tec-it.com/en पर विजिट करना होगा।
  • इस वेबसाइट पर विजिट करने के बाद आपको Online Barcode Generator ऑप्शन मिलेगा।
  • इस ऑप्शन के नीचे कुछ ऑप्शन होंगे जैसे Liner code, Postal code, 2D codes, Banking and Payments codes ऑप्शन होंगे। आपको जिस काम के लिए बारकोड बनाना है उस ऑप्शन को सिलेक्ट कर लीजिए।
  • अब इसके बाद जो भी ऑप्शन आए उसमें सही इंफॉर्मेशन भर दे और submit करके Generator Code पर क्लिक करे।
  • अब आप अपने जेनरेट हुए स्ट्रक्चर को डाउनलोड कर सकते हैं।

 

Barcode का इतिहास (History of Barcode) –

बारकोड का आविष्कार 1948 में Drexel यूनिवर्सिटी के 2 छात्रों Norman J Woodland or Bernard Silver ने मिलकर किया था। इसका डिजाइन bullseye के समान था। 1960 में David Collins ने गाड़ियों पर नजर रखने के लिए एक प्रणाली विकसित की जिसमें पहली बार बारकोड का इस्तेमाल किया गया था। सन 1966 में National Association of Food Chains (NAFC) ने इस टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल ऑटोमेटेड चेकआउट सिस्टम में  किया।

1974 में ओहियो के ट्रॉय मार्श के सुपर मार्केट में पहला UPC लगाया गया। दुनिया में पहला बारकोड स्कैन किया गया। Wrigley’s नामक उत्पाद के पैकेट में पहली बार बारकोड स्थापित किया गया। धीरे-धीरे टेक्नोलॉजी में बदलाव आने के कारण बारकोड में और भी अधिक फीचर ऐड किए गए। आधुनिक समय में 2D बारकोड भी उपलब्ध है जिसमें अधिक डाटा को स्टोर किया जा सकता है। 

 

विभिन्न देशो के Barcode क्या है? –

अलग-अलग देशों के बारकोड भी अलग-अलग होते हैं। जैसे कि –

  • भारत – 890
  • संयुक्त राज्य अमेरिका और कनाडा – 00-13
  • फ्रांस – 30-37
  • जर्मनी – 40-44
  • जापान 45-49
  • रूस – 46
  • श्रीलंका – 479
  • यूनाइटेड किंगडम – 50
  • चीन – 690-692
  • नार्वे – 70
  • सिंगापुर – 888
  • ब्राजील – 789
  • ऑस्ट्रेलिया – 93

इस जानकारी के आधार पर आप किसी भी उत्पाद के बारकोड को देख कर यह पता लगा सकते हैं कि कौन सा उत्पाद किस देश में बना है। 

 

 

निष्कर्ष (Conclusion) –

हमने आपको इस आर्टिकल में Barcode के बारे में बताया है। यह एक ऐसी तकनीक है जिसका उपयोग किसी प्रोडक्ट का आंकड़ा या सूचना के बारे में जानकारी लिखने लिए उपयोग किया जाता है। Barcode क्या है? को सरल भाषा में समझाने की कोशिश की है। उम्मीद है आपको यह आर्टिकल पसंद आया होगा।

 

FAQ – Barcode in Hindi

Q.1 बारकोड में कितने लाइन होते हैं?

Ans. बारकोड में कुल 90 लाइन होते हैं, लेकिन 84 लाइनो का ही इस्तेमाल होता है।

Q.2 बारकोड क्या है?

Ans. बारकोड किसी Product के बारे में Visual और Machine Readable Form में Data को लिखने का एक तरीका है, जिसमें प्रोडक्ट के निर्माता, निर्माण, स्टॉक, कीमत, मात्रा आदि की जानकारी होती है।

Q.3 भारत का बारकोड नंबर क्या है?

Ans. भारत का बारकोड नंबर 890 है।

Q.4 बारकोड का आविष्कार किसने किया?

Ans. बारकोड का आविष्कार Norman Joseph Woodland और Bernard Silver ने किया था।

Q.5 बारकोड कितने प्रकार के होते हैं?

Ans. बारकोड मुख्यतः दो प्रकार के होते हैं – Linear Barcodes (1D Barcodes) और 2D Barcodes (QR Codes)

Q.6 बारकोड में कौन-कौनसी सूचनाऐं होती है?

Ans. बारकोड में मुख्य रूप से Product के Manufacturer, Manufacture Date, Expiry Date, Weight, Quantity, Price और Stockसे संबंधित जानकारी होती है।

Q.7 बारकोड को कैसे पढ़ें?

Ans. बारकोड को पढने लिए आपके पास दो विकल्प हैं जिनमे, पहला बारकोड स्कैनर या बारकोड रीडर का प्रयोग करें। दूसरा अपने स्मार्टफोन के कैमरा या बारकोड स्कैनर ऐप्प का इस्तेमाल करें।

Q.8 बारकोड किस कोड पर आधारित है?

Ans. बारकोड मॉर्स कोड (Morse Code) पर आधारित है।

About Team Rivn Tech

दोस्तों हम Rivn Tech Editor Team है , हमारा हर प्रयास यही रहेगा कि आपको Computer, Mobile, Latest Technology and Tips & Tricks के बारे में नवीनतम जानकारी प्रदान की जाए और नए-नए तरीकों के बारे में आपको बताया जाएगा, आपकी समस्याओं का समाधान किया जाएगा

3 thoughts on “Barcode क्या है? – Barcode कैसे बनाए?, Barcode कैसे काम करता है? | Barcode in Hindi”

Leave a Comment