CPU क्या है? CPU के प्रकार, भाग और कार्य की पूरी जानकारी हिंदी में | What is CPU in Hindi

5/5 - (1 vote)

CPU in hindi, CPU क्या है?, Cpu full form in hindi, CPU ke prakar, CPU kaise kary karta hai, CPU ke Part, cpu की विशेषताएं

हेल्लो दोस्तों आज हम CPU क्या है? के बारें में जानेंगे, इस आर्टिकल में हमने आपको बहुत ही आसान भाषा में समझया है CPU क्या है? दोस्तों आप इस आर्टिकल को पूरा अंत तक पढ़े क्यूंकि हमने आपको विस्तार से CPU के बारें में बताया है आपको सारी जानकारी यही मिल जाएगी आपको कहीं जाने की जरुरत नहीं आप चाहो तो अच्छे से नोट्स भी बना सकते है तो चलिए दोस्तों जानते है Cpu क्या है?

CPU क्या है?
CPU क्या है?

CPU क्या है? (What is CPU in Hindi) –

यह एक सेन्ट्रल प्रोसेसिंग यूनिट है। जिसे सेन्ट्रल प्रोसेसर या जस्ट प्रोसेसर भी कहा जाता है। यह electronic circuit है, जो Computer Program से जुड़े निर्देशो को निष्पादित करता है। कंप्यूटर में cpu को कंप्यूटर का दिमाग कहा जाता है इसके बिना कंप्यूटर काम नहीं कर पाता है। cpu कंप्यूटर के मदरबोर्ड में लगी एक छोटी चिप होती है।

Cpu कंप्यूटर में होना आवश्यक है क्यूंकि यह डाटा प्रोसेस करता है, यूजर द्वारा लिए गए इनपुट इनफार्मेशन को प्रोसेस करके रिजल्ट आउटपुट के जरिये देता है, डाटा को मैमोरी में स्टोर करने की प्रोसेस करता है, कंप्यूटर में यूजर द्वारा आने वाले प्रत्येक आर्डर पर प्रोसेस करता है। cpu input और output device को आपस में जोड़ता है।

सबसे पहला Cpu Federico fagin द्वारा बनाया गया। इसे इंटेल ने 1971 प्रजेंट किया। cpu में बहुत संख्या में ट्रांजिस्टर लगे होते है जो कंप्यूटर में बड़ी से बड़ी कैलकुलेशन करने में सहायक होते है। जब कंप्यूटर के सभी कार्य पर cpu प्रोसेस करता है तो ये गर्म होने लगता है इसके लिए processor (cpu) के उपर पंखा लगाया जाता है ताकि cpu ठंडा रहे। इसके अलावा cpu पर कुलिंग ट्यूब भी लगाई जाती है।

 

CPU Full Form in Hindi – (CPU meaning in Hindi) –

CPU की full Form सेन्ट्रल प्रोसेसिंग यूनिट (Central Processing Unit) है।

CPU का हिंदी मीनिंग केंद्रीय प्रक्रमण एकक है।

 

CPU के प्रकार (Types of CPU in Hindi) – 

सामान्यत CPU 6 प्रकार के होते है।

  • सिंगल कोर (Single Core)
  • डूएल कोर (Dual Core)
  • क्वाड कोर (Quad Core) 
  • हेक्सा कोर (Hexa Core)
  • ओक्टा कोर (Octa Core)
  • डेका कोर (Deca Core)

सिंगल कोर (Single Core) –

प्रोसेसर का हर एक Core एक Individual cpu होता है । एक processor में एक से अधिक Coreहो सकते हैं। जिस Processor के अंदर केवल एक Core रहता है उसे Single Core Processor कहा जाता है और जिस Processor के अंदर एक से ज्यादा Core लगे होते है उसे Multi Core Processor कहा जाता है । इस CPU में एक प्रोसेसर की क्षमता होती है। ये सबसे पुराने CPU के प्रकार है । पहले इसी CPU का इस्तेमाल करना पड़ता था । इस प्रकार के CPU में एक समय में एक ही Process या Execute करने की क्षमता होती है।

डूएल कोर (Dual Core) – 

Dual core एक cpu है । जिसमे दो अलग-अलग processor होते है । जो एक ही इंटीग्रेड सर्किट के साथ काम करते है। इस प्रकार का  प्रोसेसर एक ही प्रोसेसर की तरह कुशलता से कार्य कर सकता है । लेकिन दोगुना तेजी से संचालन कर सकता है । चूंकि प्रत्येक कोर का अपना केश होता है । ऑपरेटिंग सिस्टम समांतर में अधिकांश कार्यो को सँभालने में सक्षम होता है । Dual Core और Core 2 duo प्रोसेसर  की एक श्रखला है जो इंटेल द्वारा आविष्कार किया गया है । Dual – Core Processor को मल्टीटास्किंग के लिये अच्छी तरह से अनुकूल बनाता है।

क्वाड कोर (Quad Core) – 

cpu में एक चिप में चार processing Core होते है। यह एक दोहरे कोर सीपीयू के सामान है, लेकिन इसमे चार Separate processor (rather than two) है , जो एक ही समय में instrutions को संसाधित कर सकते है। Quad – Core cpu हाल के वर्षो में अधिक लोकप्रिय हो गए हैं क्योंकि processor की घडी की गति स्थिर हो गई है एक ही सीपीयू में कई को शामिल करके, चिप निर्माता घड़ी की गति को बढ़ाएं बिना उच्च प्रदर्शन उत्पन्न कर सकते हैं हालांकि प्रदर्शन लाभ केवल तभी प्राप्त किया जा सकता है।

जब कंप्यूटर का सॉफ्टवेयर Multi processing का समर्थन करता हो यह सॉफ्टवेयर को एक समय  में केवल एक प्रोसेसर का उपयोग करने के बजाये कई processor के बिच processing load को विभाजित करने की अनुमति देता है Quad Core cpu के कुछ उदाहरण में इंटेल कोर 2 Quad , इंटेल nc haleem और AMD Phenom x4 processor शामिल है। 

हेक्सा कोर (Hexa core) – 

जिस चिप के अंदर 6 कोर होते हैं उसे Hexa Core कहा जाता है ऐसे प्रोसेसर को हेक्सा कोर प्रोसेसर कहा जाता है। यह  एक मल्टीकोर प्रोसेसर है इसमे dual core और Quad core प्रोसेसर की तुलना में फ़ास्ट कार्य करने की क्षमता होती है। 

इस cpu का यूज़ smart phone में होता है। यह कम समय लेता है और बहुत से काम को एक साथ निपटा सकता है। यह बिजली ज्यादा खर्च करने के साथ साथ अत्यधिक महंगे भी आते है।

ओक्टा कोर (Octa core) – 

यह एक SOC (System on a chip) यानि की मोबाइल प्रोसेसर में ओक्टा कोर का मतलब सामान फ्रीक्वेंसी के 8 कोर होते है। प्रत्येक कोर एक प्रोसेसर का काम करता है। ऐसे में ऑक्टा कोर वाला प्रोसेसर 8 प्रोसेसर का काम करेगा ऑक्टा कोर का मतलब है ज्यादा तेज गेमिंग, फुल स्पीड वीडियो और मल्टी टास्किंग। ऑक्टा कोर प्रोसेसर वाले स्मार्टफोन दूसरों से ज्यादा फास्ट होते हैं ।आपको बता दें कि ऑक्टा कोर प्रोसेसर में आठ अलग-अलग लेयर होती है। मल्टीटास्किंग के दौरान ये प्रोसेसर तेजी से काम करता है।

डेका कोर (Deca Core) –

डेका कोर प्रोसेसर में एक ही नहीं 10 कोर होते हैं जो काफी तेज गति से संचालित होता है और यह सामान्यतः कंप्यूटर में बहुत ही फास्ट होता है। डेका कोर यूजर के लिए मल्टीटास्किंग पर वर्क कर सकता है। इसकी वजह से यूजर एक समय में कई कार्य एक साथ कर सकता है और अपने काम को जल्दी निपटा सकता है।

 

CPU कैसे कार्य करता है (How does a CPU work in hindi) –

CPU कैसे कार्य करता है
CPU कैसे कार्य करता है

CPU कंप्यूटर का महत्वपूर्ण भाग है जिसे  प्रोसेसर, माइक्रोप्रोसेसर, और CPU भी कहते है। सीपीयू कंप्यूटर से जुड़े सभी Hardware, Software, users तथा Input डिवाइसो से प्राप्त डेटा एव निर्देशो को सभालता है, और उसे प्रोसेस करके परिणाम देता है।

ऑपरेटिंग सिस्टम एव अन्य प्रोग्रामो का संचालन भी करता है इसका कार्य है कंप्यूटर पर आने वाले इनपुट और निर्देशो को प्रोसेस करना। कंप्यूटर की यह यूनिट अंकगणित, तार्किक, नियंत्रण से जुड़े कार्य, इनपुट कार्य, आउटपुट कार्य संपन्न करता है। इसे आम तौर पर  प्रोसेसर के रूप में भी जाना जाता है।

CPU के काम करने की प्रक्रिया को चार स्टेप में समझाया गया है आप निचे से पढ़ सकते है।

फ़ेच (Fetch) –

Computer की Memory में कई प्रकार के instructions मिलते है। इस Fetch step में CPU instruction को read करता है, और इसे प्रोसेस करता है।

डिकोड (Decode) –

सारे instructions को पढ़ने के बाद CPU सभी सूचनाओ को decode करता है। यह instructions को बाइनरी कोड में बदलता है।

एक्सीक्यूट (Execute) –

यह CPU के कार्य का तीसरा स्टेप है।  इसमें CPU के सभी instructions को निर्दिष्ट करता है, और सभी काम को कम्पलीट करता है।

स्टोर (Store) –

instructions को execute करने के बाद जो data receive होता है। उसे CPU, Computer की Memory में store करता है।

 

CPU के भाग (Parts of CPU in hindi) –

CPU के भाग
CPU के भाग

ALU –

ALU को CPU Core भी  कहां जाता है। CPU के भीतर सभी Arithmetic और Logical Operation को करने के लिए सभी calculations है। जैसे – addition, Subtraction, Multiplication, division और Comparison इन सभी प्रक्रियाओ की प्रोसेसिंग करने का काम ALU का होता है। इसे CPU का महत्वपूर्ण भाग माना जाता है।

Control Unit – 

Control Unit भी CPU का प्रमुख घटक है। ये कंप्यूटर में घटित होने वाले सभी operations में Control और direot करने का काम करता है आसान भाषा में आपके द्वारा input किये  गए instructions या data को Computer System की दूसरी Unit तक transfer करने का काम control unit का होता है।

Memory Unit –

यह सीपीयू की temporary storage है। जहां प्रोसेसिंग के लिए डाटा या निर्देशों को store किया जाता है। ये इंफॉर्मेशन को bits की फॉर्म में रखता है। यह रजिस्टर अलग अलग capacity के होते हैं। जैसे – 2bit, 4bit, 8 bit register etc.

Registers  में  कई अन्य वर्ग होते हैं –

  • Memory Address Register (MAR)
  • Memory Data Register (MDR)
  • Program Counter (PC)
  • Current Instructions Register (CIR)
  • Accumulator Register (AR)

सीपीयू की विशेषताएं – (Features of CPU in Hindi)

CPU की निम्न विशेषताएँ है –

Speed (गति) –

सीपीयू के काम करने की स्पीड बहुत अच्छी होती है। लेकिन हो सकता है सभी सीपीयू की स्पीड तेज न हो क्योकि CPU की स्पीड उसकी frequency पर based होती है। जिस सीपीयू की frequency अधिक होगी तो उसकी गति भी अधिक होगी और जिसकी frequency कम होगी उसकी स्पीड भी स्लो होगी।

Multitasking (मल्टीटास्किंग) –

cpu multitasking होता है यानिकी ये एक time में कई कार्यो को एक साथ बहुत easily कर सकते है।

Core (कोर) –

सीपीयू में बहुत से core लगे होते है। जिसका इस्तेमाल सीपीयू एक time में कई कार्यो को करने के लिए करता है। Core सीपीयू के काम करने की स्पीड भी बढ़ाते है। प्रत्येक core की अलग अलग quilty होती है और हर एक core के पास खुद की cache Memory होती है।

Cache Memory (कैश मेमोरी) –

कैश मेमोरी CPU की सबसे छोटी Memory है, जो सीपीयू के भीतर होती है। कैश मेमोरी मुख्य मेमोरी से ज्यादा तेज होती है। cpu इसका उपयोग अपनी प्रोसेसिंग स्पीड को बढ़ाने के लिए करता है।

Fan (पंखा) –

सीपीयू के अंदर एक पंखा लगा होता है। जो cpu को ठंडा रखने के लिए होता है, क्योकि सीपीयू की प्रोसेसिंग के दोहरान यह बहुत ज्यादा गर्म हो जाता है अगर सीपीयू ज्यादा गर्म हो जाता है तो वह सही तरीके से अपने काम नहीं करता है और कंप्यूटर हेंग होने लगता है इसी वजह से सीपीयू में Fan लगाया जाता है। ताकि cpu ठंडा रहे और सही तरीके से काम करता रहे।


निष्कर्ष (Conclusion) –

आज हमने CPU क्या है? के बारे में बताया है। इसमें आपको CPU की full form के बारे में बताया है साथ ही CPU कैसे कार्य करता है, प्रकार और भागों के बारे में विस्तार से बताया है। अगर आपको CPU क्या है? को use करने से सम्बन्धित कोई भी प्रश्न हो तो आप हमसे कमेंट करके भी पूछ सकते है।

मुझे उम्मीद है आपको यह आर्टिकल पसंद आया होगा और कुछ नया सीखने या जानने को मिला होगा। अगर आपको यह आर्टिकल CPU क्या है? सहायक लगा हो तो आप इसे अपने Friends के साथ एवं Social Media पर भी Share करें ताकि उनको भी इसके बारे में जानकारी प्राप्त हो सके। धन्यवाद !


FAQ – Central processing unit kya hai

Q.- 1 सेन्ट्रल प्रोसेसिंग यूनिट क्या है समझाइये?

सेन्ट्रल प्रोसेसिंग यूनिट एक इलेक्ट्रानिक माइक्रोचिप होती है जो डेटा को यूजर द्वारा दिये गये निर्देशों के अनुसार प्रोसेसिंग कर सही रिजल्ट प्रोवाइड करवाता है, और Computer system के सभी कार्यों को control करता है।

Q.- 2 CPU का अर्थ क्या होता है?

Cpu का अर्थ सेंट्रल प्रोसेसिंग यूनिट (केंद्रीय प्रक्रमण एकक) है।

Q.- 3 सी पी यू कौन कौन से ऑपरेशन करता है?

सी पी यू  सभी बेसिक, लॉजिकल और अंकगणितीय ऑपरेशन करता है।

Q.- 4 सीपीयू क्या है इसका कार्य लिखिए?

सीपीयू एक सेन्ट्रल प्रोसेसिंग यूनिट है। जिसे सेन्ट्रल प्रोसेसर या जस्ट प्रोसेसर भी कहा जाता है। यह electronic circuit है, जो Computer Program से जुड़े निर्देशो को निष्पादित करता है। इसका कार्य है कंप्यूटर पर आने वाले इनपुट और निर्देशो को प्रोसेस करना। कंप्यूटर की यह यूनिट अंकगणित, तार्किक, नियंत्रण से जुड़े कार्य, इनपुट कार्य, आउटपुट कार्य संपन्न करता है। इसे आम तौर पर  प्रोसेसर के रूप में भी जाना जाता है।

Q.- 5 सीपीयू का दूसरा नाम क्या है?

सीपीयू का दूसरा नाम ब्रेन ऑफ कंप्यूटर है।

Q.- 6 सीपीयू के तीन मुख्य भाग क्या है?

सीपीयू के तीन मुख्य भाग – 
ALU
Control Unit
Memory Unit

Q.- 7 सीपीयू कितने प्रकार के होते हैं?

सामान्यत CPU 6 प्रकार के होते है।
सिंगल कोर (Single Core)
डूएल कोर (Dual Core)
क्वाड कोर (Quad Core) 
हेक्सा कोर (Hexa Core)

About Team Rivn Tech

दोस्तों हम Rivn Tech Editor Team है , हमारा हर प्रयास यही रहेगा कि आपको Computer, Mobile, Latest Technology and Tips & Tricks के बारे में नवीनतम जानकारी प्रदान की जाए और नए-नए तरीकों के बारे में आपको बताया जाएगा, आपकी समस्याओं का समाधान किया जाएगा

14 thoughts on “CPU क्या है? CPU के प्रकार, भाग और कार्य की पूरी जानकारी हिंदी में | What is CPU in Hindi”

Leave a Comment